Posts

Showing posts from November 4, 2013

दिल चाहता है ज़माने से छुपा लूँ तुझको !

Image
दिल चाहता है ज़माने से छुपा लूँ तुझको, दिल की धड़कन की तरह दिल में बसा लूँ तुझ को. कोई एहसास जुदाई का न रह पाये, इस तरह खुद में मेरी जान छुपा लूँ तुझको. तू जो रूठ जाये मुझ से मेरे दिल के मालिक, साड़ी दुनिया से खफा हो कर मना लूँ तुझको. जब मैं देखूं तेरे चेहरे पे उदासी का समा, बस यह चाहूँ किसी तरह हंसा लूँ तुझको. तू कभी जब दुनिया से बेज़ार हो जाये , दिल यह चाहे की बाहों में छुपा लूं तुझ को!

कभी तो चाँद असमान से उतरे और आम हो जाये

Image
कभी तो चाँद असमान से उतरे और आम हो जाये,
तेरे नाम की एक खूबसूरत शाम हो जाये,
अजब हालत हुए की दिल का सौदा हो गया,
मुहब्बत की हवेली जिस तरह नीलम हो जाये,
मैं खुद भी तुझसे मिलने की कोशिश नहीं करूँगा,
क्योंकि नहीं चाहता कोई मेरे लिए बदनाम हो जाये,
उजाले अपनी यादों के मेरे साथ रहने दो,
जाने किस गली में जिंदगी की शाम हो जाये |